Australia Fires : ऑस्ट्रेलिया के जंगलों में आग लगाने पर बोले आरोपी, देखकर लगता है अच्छा

देश

Edited By: टाइम्स हिन्दी

Updated on: 19 घंटे पूर्व
fire

Australian Forest Fire : ऑस्ट्रेलिया के जंगलों में हाल ही में भयंकर आग लगी. जिसमें करोड़ों जीव-जन्तु जलकर मर गए. बताया जा रहा है कि ऑस्ट्रेलिया (Australia) के जंगलों (Forest) में ये आग जानबूझ कर लगाई गई थी, जिसके आरोप में पुलिस ने कई लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है. गिरफ्तार किए गए लोगों से जब पुलिस ने पूछताछ की तो उन्होंने आग लगाने की जो वजह बताई वो सबको चौंकाने वाली थी.

दरअसल, स्विनबर्न यूनिवर्सिटी में फॉरेंसिक बिहेवियरल साइंस के निदेशक जेम्स ओग्लॉफ के अनुसार, ऑस्ट्रेलिया में लगभग 50 प्रतिशत आग जानबूझ कर लगाई गई. उन्होंने न्यूज कॉर्प को बताया, "उन्हें आग देखना अच्छा लगता है, आग लगाना अच्छा लगता है और वे अक्सर यह जानकारी देते हैं कि जंगल कैसे जलता है और आग को कैसे भड़काया जाता है."

वहीं मेलबर्न यूनिवर्सिटी की प्रोफेसर एसोसिएट प्रोफेसर जेनेट स्टेनली का कहना है कि आगजनी करने वाले या आग लगाने वाले आम तौर पर युवा लड़के हैं जो 12 से 24 साल के बीच के हैं या 60 साल या इससे भी बुजुर्ग. एक पूर्व स्वयंसेवी दमकल कर्मी ब्रेंडन सोकालुक को 2009 में विक्टोरिया में आग लगाने के मामले में 17 साल नौ महीने की जेल की सजा सुनाई थी. इसे ऑस्ट्रेलिया के सबसे घातक अग्निकांडों में से एक माना जाता है. जिसमें 10 लोगों की मौत हो गई थी.

सबसे लोकप्रिय और देखें