क्या आप Hug करने से होने वाले इन 9 हेल्थ बेनेफिट्स के बारे में जानते हैं?

लाइफस्टाइल

Edited By: टाइम्स हिन्दी

Updated on: 19 घंटे पूर्व
02-stress-health-benefits-h

हग करना प्यार जताने का एक बहुत ही रोमांटिक तरीका है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि हग करने से सिर्फ खुशी ही नहीं मिलती बल्कि इसके कई तरह के हेल्थ बेनिफिट भी हैं। आलिंगन से दिल की धड़कनें कंट्रोल रहने के साथ ही ऑक्सीटोसिन और मेटाबोलिज़्म भी सही रहता है। इसके साथ ही आलिंगन करने के बाद नींद भी अच्छी आती है। रिसर्च के अनुसार, नियमित रूप से आलिंगन करने से उम्र बढ़ने के साथ ही मानसिक स्वास्थ्य भी बेहतर रहता है। जब एक पार्टनर उदास हो और दूसरा आकर उसे हग करे तो इससे उसकी उदासी दूर हो जाती है। तो आइए आज हम आपको बताते हैं हग करने से होने वाले हेल्थ बेनिफिट्स के बारे में…

सोच बने पॉजीटिव

हग करने से दिमाग़ में सकारात्मक प्रतिक्रिया होती है, जिससे सोच पॉजीटिव हो जाती है। वही, नियमित आलिंगन करते रहने से इंसान के स्वाभाव से नकारात्मकता खत्म हो जाती है।

मृत्यु का डर दूर हो जाता है

रिसर्च के मुताबिक, अगर कोई इंसान अपने बहुत करीबी किसी को हग करता है तो उस इंसान को अपने अस्तित्व संबंधी डर से मुक्ति मिल जाती है।

दिल के लिए लाभदायक

हग करने के दौरान एक पल के लिए दिल धड़कना बंद हो जाता है, जो कि शरीर को फायदा पहुंचाता है। क्कि इससे हॉर्ट टिश्यूज़ स्ट्रॉन्ग होते हैं।

एनर्जी बढ़ाए

अगर कोआ इंसान आलस्य और अकेलेपन से ग्रसित है तो हग करना आपके लिए बेहद फ़ायदेमंद साबित होगा। क्योंकि इससे ख़ून में बढ़ी ऑक्सीटोसिन की मात्रा मोराल बढ़ाती है, जिससे इंसान फ्रेश फील करता है।

ब्लडप्रेशर होता है नियंत्रित

जब दो पार्टनर बीच आलिंगन होता है तो यह हाई ब्लडप्रेशर को कंट्रोल करता है। क्योंकि हग करने के दौरान शरीर का ऑक्सीटोसिन ब्लड में जाता है, जिससे हाई ब्लडप्रेशर नियंत्रित रहता है।

मेमोरी पावर बने स्ट्रॉन्ग

रिसर्च के मुताबिक, नियमित रूप से आलिंगन करने वाले कपल की मेमोरी पॉवर लंबे वक्त तक सही रहती है।

अच्छी नींद आए

हग अनिद्रा का दुश्मन है। जो भी इंसान रात में नींद ना आने से परेशान है वह अपने लव वन्स से प्यार की झप्पी जरूर लें। इससे उन्हें अच्छी नींद आएगी।

थकावट हो दूर

हग करने से थकान दूर होने के साथ ही दिमाग भी शांत होता है। क्योंकि आलिंगन के दौरान इंसान का माइंड उस चीज से हट जाता है, जिसे लेकर वह परेशान है।

बेचैनी हो खत्म

हग करने से ख़ून में ऑक्सीटोसिन नामक हार्मोन का रिसाव होता है, जिससे बेचैनी ख़त्म होती है। इसके साथ ही इंसान ज्यादा समय तक हेल्दी भी रहता है।

सबसे लोकप्रिय और देखें